आपको हमारी वेबसाइट पर अपने दुकान या अन्य किसी भी तरह का विज्ञापन लगवाना हो तो दिए गए नंबर पर तुरंत संपर्क करे - 9424776498,8120293065

Logo
Box slider 4
600x250 whatsup add 1

क्यों नहीं होता है हनुमान भक्तों पर शनि का प्रकोप

Box slider 5
600x250 whatsup add 1

संकटमोचन हनुमान जी का मंगलवार और शनिवार के दिन विधिपूर्वक पूजा करने का विधान है। जो भक्त हनुमान जी की सच्चे मन से प्रार्थना करते हैं, उनके दुख तो दूर होते ही हैं, उन पर शनिदेव का प्रकोप भी नहीं पड़ता है। आखिर ऐसा क्यों होता है, आइए जानते हैं इस पौराणिक कथा के माध्यम से ……

loading...

एक बार हनुमान जी अपने प्रभु श्रीराम के कार्य में वयस्त थे, तभी वहां से शनिदेव गुजरे। हनुमान जी को कार्य में एकाग्र देखकर उनको शरारत करने का मन हुआ। शनिदेव हनुमान जी के पास पहुंचे और राम कार्य में बाधा डालने लगे। इस पर हनुमान जी ने उनको चेताया कि वे ऐसा न करें। काफी मना करने पर भी शनिदेव नहीं माने तो हनुमान जी ने उनको कसकर अपनी पूंछ में जकड़ लिया और प्रभु के कार्य को पूरा करने में लग गए। इधर लाख प्रयत्न के बाद भी शनिदेव हनुमान जी की पूंछ की जकड़ से मुक्त नहीं हो पाए। श्रीराम प्रभु का कार्य खत्म होने के पश्चात हनुमान जी को शनिदेव का ख्याल आया, तो उन्होंने अपनी पूंछ की पकड़ ढीली कर दी और शनिदेव को मुक्त कर दिया। हनुमान जी जकड़ में रहने के दौरान शनिदेव के शरीर पर कई घाव हो गए थे। शनिदेव ने प्रभु श्रीराम के कार्य में बाधा डालने की भूल स्वीकार करते हुए हनुमान जी से माफी मांगी और अपने घावों पर लगाने के लिए सरसों का तेल मांगा ताकि उनको दर्द से राहत मिले। हनुमान जी ने शनिदेव को सरसों का तेल दिया, जिसके लगाने से उनको दर्द से राहत मिली। फिर शनिदेव ने कहा कि जो भी व्यक्ति हनुमान जी और श्रीराम की भक्ति करेगा, उस पर उनकी विशेष कृपा होगी। इस कारण ही शनिदेव को शनिवार के दिन सरसों का तेल अर्पित किया जाता है।

 

Ad 600x250
Box slider 1
Spread the love
  •  
  •  
Box slider 2
evrest20.06.2019
600x250 whatsup add 1
prabhat auto slaider ad 600X 250
600x250 whatsup add 1

“अब कहे कौन”…..? यातायात ठीक ठाक चल रहा है … आशुतोष सिंह     |     हम देंगे राय होकर प्रफुल्लित अब कहे कौन…….? (आशुतोष सिंह)     |     विकास के नाम पर प्रकृति से खिलवाड, कांक्रिट के चंगुल मे अमरकंटक (आशुतोष सिंह की रिपोर्ट)     |     राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी की 150वीं जयंती मनाई गई ( रमेश तिवारी की रिपोर्ट )     |     घट स्थापना के साथ शारदीय नवरात्रि प्रारम्भ ( रमेश तिवारी की रिपोर्ट )     |         |     मध्यप्रदेश राजस्व अधिकारी संघ ने मुख्यमंत्री के नाम कलेक्टर एवं बिधायक को सौपा ज्ञापन (पुष्पेंद्र रजक की रिपोर्ट)     |     खेल शिक्षक को दी गयी भावभीनि बिदाई (पुष्पेंद्र रजक की रिपोर्ट)     |     गुरु आश्रम पर बेजा कब्जा, हटाये जाने को लेकर साध्वी ने सौंपा ज्ञापन ( पूरन चंदेल की रिपोर्ट )     |     कमरों की कमी, आठ कमरों में पढ़ रहे हैं 730 छात्र ( रमेश तिवारी की रिपोर्ट )     |    

error: Content is protected !!
Website Design: SMC Web Solution - 8770359358