# भारत में रिकार्ड ; एक ही दिन में मिले 26000 हजार से ज्यादा मामले ## भारत में कोरोना का कुल आकड़ा 822,603 # वहीँ 516,206 मरीज ठीक हुए,तो वहीँ 22,144 लोगों की हुई मौत # # भारत विश्व में कोरोना के चपेट में पंहुचा तीसरे नंबर पर ये बढ़ता आकड़ा, डराने वाला है # वही रिकवर मरीजों की संख्या भारत में बेहतर ##

Post 5

हम देंगे राय होकर प्रफुल्लित अब कहे कौन…….? (आशुतोष सिंह)

Post 1

“समय होत बलवान ……
जबलपुर का अनुभव अर्ध नग्न उदाहरणों को माध्यम बना चटकदार अदाकारी से परोसने वाले साहब ग्लेज पर मेहर की रहम से उलझते जा रहे हैं………….!
इसीलिए साहब वर्तमान में प्रफुल्लित नही हैं………..!
जहां हैं वह रास नही आ रहा….. जहाँ जाना चाहते हैं वह अधिकारियों को रास नही…….!
पता नही इसमे सच है भी या नही….?
पर ऐसा हमेसा से नही रहा व्हीआईपी व्यवस्था करते-करते-करते उबिया गए हैं साहब……..!
अब चंद महीने ही तो हैं…… आराम से गुजर जाएं बाकी बातें तो चटकारे वाली दरबार लगा कर ही करना है…..।
पर आप जहाँ जाना चाह रहें हैं वह जगह विभिन्न प्रकार के अपराधों का गढ़ है….., कैसे कैसे अपराध पैर पसारे बैठे हैं…., कबाड़ियों की भरमार है…., सटोरिया भी कम नही हैं…., जगह जगह शराब की अवैध पेकारी चल रही है….., रेत माफिया सक्रिय है…., कोयला चोर भी अधिक हैं….., सूदखोरों की बिल्कुल कमी नही है……., बैंक दलाल भरे पड़े हैं……., पता नही साहब इनके बीच क्यो जाने की जिद में अड़े हैं………..?
साहब जंहा रहते हैं ऐसा बिल्कुल नही होने देते…….?
सभी देखलो……
इधर डरे सहमे अधीनस्थों ने बताया साहब जब कहते हैं तब ही मामला बनता है…………!
न कहें तब मजाल है कोई मामला कायम करने की हिम्मत जुटा ले…….।
चाहे भले फरियादी न्याय की गुहार गला फाड़ कर लगाता रहे पर अनुभवी साहब के कानों में जूं नही रेंग सकती…..।
अरे साहब ग्लेज पर भी कह दो न……….!
अधीनस्थों से…..Please…!
ठीक है साहब आप को जितनी मदद करनी थी आपने किया, इस बात को सभी मानते है, और आप तो खुद पत्रकारों से भरे दरबार में बता भी चुके हैं…..
आपने मदद के नाम पर उन बच्चों को जिला कार्यालय जाने की समझाईस दी, बच्चे धरने पर भी बैठे,…….
अब कितना साहब…थक जाएंगे ……….!
भले आप दिल से जवान हैं आपके दिये उदाहरणों से भी पता चलता है…., पर साहब शरीर तो सठिया ही गया है।
अरे साहब इधर………आपके मातहतों में एक अपनी ही टेविल कांचों वाली लगा रखा है……. तो वंही दूसरा फरियादी से ही तीन शून्य पांच कर रहा है…….
बात दो-पांच वाली तो नही……?
अब ऐसे में आरोपी बेचारा…….!
नही-नही-नही आरोपी बेचारा कँहा होता है………..?
साहब आप तो खुद सार्वजनिक तौर पर कहते हैं ……
“देखो में आपकी हर जगह मदद करता हूँ”…………

अरे भैया ये सब अनसुलझी पहेली न तो हमारे समझ मे आती न ही हम कुछ कह सकते इसीलिए पहले ही कह देते हैं………
….अब कहे कौन…?

Post 4
Post 2
Post 3

Leave A Reply

Your email address will not be published.

ग्राम पंचायत जीलंग सचिव, रोजगार सहायक हितग्राहियों से प्रधानमंत्री आवास का लाभ दिलाने के नाम पर कर रहे है अवैध वसूली -(पूरन चंदेल की रिपोर्ट- )     |     पट्टे की भूमि पर लगी धान की फसल में सरपंच/सचिव/रोजगार सहायक करा दिए वृक्षारोपण (पूरन चंदेल की रिपोर्ट)      |     ग्राम पंचायत किरगी के नाली निर्माण भ्रस्टाचार की फिर खुली पोल {मनीष अग्रवाल की रिपोर्ट}     |     ओवरलोडिंग से सड़कों की हो रही खस्ताहाल ट्रक ट्रेलर मोटर मालिक हो रहे मालामाल {वरिष्ठ पत्रकार यदुवंश दुबे की रिपोर्ट}     |     क्या यहाँ ? इंसान की जगह आवारा कुत्तो को किया जाता है भर्ती {पुष्पेन्द्र रजक की रिपोर्ट}     |     कमिश्नर को दिया आवेदन पत्र, दुकानदार के कहने पर की थी शिकायत (रमेश तिवारी की रिपोर्ट))     |     युवा अपनी ऊर्जा सकारात्मक कार्यों में लगाएँ, सोशल मीडिया का करें सदुपयोग- कलेक्टर     |     अनुपपुर जिले में आगामी रविवार को नही रहेगा पूर्ण लॉकडाउन (अनिल दुबे की रिपोर्ट)     |     धार्मिक स्थलों में ना करें सामूहिक पूजा- बिसाहूलाल सिंह (अनिल दुबे की रिपोर्ट)     |     महामंडलेश्वर योगाचार्य लक्ष्मणदास बाल योगी शहडोल संभाग के संरक्षक हुए नियुक्त (अनिल दुबे की रिपोर्ट)     |